Can we file 498a


बहुत ही अच्छे से explain किया है हर एक ने...

हम सभी जानते हैं कि आज कल के generation इतनी ज्यादा stressed life जी रही है कि किसी को कोई खबर नहीं है कि सामाजिक ताना बाना किस दिशा की तरफ रहा है... मैं भी इसी generation का ही हिस्सा हूं, ना जाने कितने ही रिश्ते तार तार होते देखे हैं और काफी घरों को टूटने से बचाया भी है सिर्फ फोन पर बात करके, दोनों को समझा कर के....

मां होने के नाते आपको अपनी बेटी को सिर्फ यही समझाना है कि जो पवित्र कसमें पवित्र अग्नि के फेरे में ली है, उन्हें निभाने का वक़्त है यह...अगर कोई आपके साथ वादा करे और उसे तोड़ दे तो निश्चय ही काफी पीड़ादायक होता है तो जरा सोचिए कि आप तो उस परमात्मा से किये वादे तोड़ने जा रहे हो, जिन्हें आपने शादी के फेरों के वक़्त उस पवित्र अग्नि के सामने ईश्वर को साक्षी मान कर लिए है, तो इस बात को परमात्मा कैसे माफ कर देंगे.....यही बात उस लड़के को भी समझाना जरूरी है...

सुरिंदर मित्तल
9417583939

Total likes : 1 times

 
Reply   
 

LEAVE A REPLY


    

Your are not logged in . Please login to post replies

Click here to Login / Register  



 

Search Forum:








×

  LAWyersclubindia Menu

web analytics