Specific relief act

 


Querist : Anonymous (Querist)
31 August 2019

वादी ने विनिर्दिष्ट अनुतोष अधिनियम की धारा 6 के तहत कब्जा प्राप्ति का वाद प्रस्तुत किया और विकल्प में भी स्वत्व के आधार पर कब्जा प्राप्ति का अनुतोष माँगा, विचारण में वादी ने अपने बयानो में बेदखली की दिनाँक वाद पत्र में अभिलिखित बेदखली की दिनाँक से भिन्न बताई, विचारण न्यायालय ने वादी का धारा 6 का वाद तो मियाद बहार मानकर खारिज कर दिया परन्तु वादी के पक्ष में वैकल्पिक अनुतोष के लिये कब्जा प्राप्ति की डिक्री जारी कर दी । (मैं प्रतिवादी हुँ )
निम्न बिन्दुऔं पर citation नहीं मिल रही है�
(1) धारा 5 व धारा 6 अलग अलग उपचार प्रदान करती है इसलियें दोनो धाराऔं को एक ही वाद में संयॊंजित नहीं किया जा सकता है ।
(2) न्यायालय अभिवचनों से भिन्न, बयान में बताई गई बेदखली की दिनाँक को cause of action नहीं मान सकता है ।
(3) धारा 6 व 5 के तहत संयुक्त रूप से दायर किये गये किसी वाद में यदि वादी धारा 6 के वाद में असफल हाे जाये ताे उसके पक्ष में धारा 5 के तहत स्वत्व के आधार पर भी काेई डिक्री पारित नहीं की जा सकती है और यदि उक्त प्रकार की काेई डिक्री पारित की गई है ताे वाे सही नहीं है।




You need to be the querist or approved LAWyersclub expert to take part in this query .


Click here to login now



Similar Resolved Queries :









×

  LAWyersclubindia Menu